Wed. Jun 29th, 2022

Beti Bachao Beti Padhao Yojana in Hindi – बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना 22 Jan 2015 पानीपत Haryana, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना – जन-धन योजना, Make in India और स्वच्छ भारत अभियान के सफल क्रियान्वयन के बाद प्रधानमंत्री Narendra Modi ने 22 जनवरी 2015 को हरियाणा के पानीपत (Panipat) में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना शुरू की । beti bachao beti padhao yojana in hindi

Beti Bachao Beti Padhao Yojana –

Sukanya Samriddhi Yojana Latest Updates (July 2020) – सुकन्या योजना का खाता ऑनलाइन (SBI and ICICI Bank)

Note: स्पष्ट कर दें कि Sukanya Samriddhi Yojana का खाता Online खोलने की सुविधा पूरी तरह से अभी शुरू नहीं हुई है। सुकन्या खाता से जुडी ये सब जानकारी अब ऑनलाइन ली जा सकती है। जैसे Form Download, Online पैसा जमा, Automatic Credit system, खाता का Balance और statement online, अन्य शाखा में Onlne Transfer, खाते की मेच्योरिटी रकम लडकी के बचत खाते में Online Transfer जैसी चीजें अब ऑनलाइन होने लगी है।

लिंगभेद को लेकर बदल रही है समाज की मानसिकता, अभी तक 167 जिलों में सफल क्रियान्वयन के बाद अब 640 जिलों में योजना का विस्तार करने पर विचार चल रहा है

रिज़र्व बैंक की वेबसाइट से ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड करें

https://rbidocs.rbi.org.in/rdocs/content/pdfs/494SSAC110315_A3.pdf

स्टेट बैंक की वेबसाइट से फॉर्म ऑनलाइन डाउनलोड करें

https://retail.onlinesbi.com/sbi/downloads/suknya_smridhi.pdf

ICICI Bank से ऑनलाइन फॉर्म डाउनलोड किये जा सकते है

https://www.icicibank.com/managed-assets/docs/personal/investments/SSY-account-opening-form.pdf

आज के समय में भारत की जनसंख्या बहुत तेजी से बढ़ रही है, लेकिन बड़े दुर्भाग्य की बात है की इस बढ़ती हुई जनसंख्या में लड़कियों की संख्या दिनों दिन घटती जा रही है कुछ राज्य तो ऐसे है जहाँ लड़कियों की संख्या बहुत तेजी से घट रही है, जो एक चिंतन का विषय बनता जा रहा है । वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार प्रति 1000 लड़कों में लड़कियों की संख्या 927 थी जो 2011 की जनगणना में घटकर मात्र 918 रह गयी है । मॉडल ज़माने के साथ साथ जहां विचारों में भी आधुनिकता आनी चाहिए वहां ऐसे अपराध दिनों दिन बढ़ते जा रहें है । अगर इसी तरह से देश में लड़कियों का अनुपात दिनों दिन गिरता रहा तो एक दिन ऐसा आएगा जब लोगों को  अतः  इस दिशा में  लोगों को जागरूक करने के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की सुरुवात की गयी ।

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने 100 करोड़ रुपए के शुरुआती कॉर्पस के साथ यह योजना देशभर के 100 जिलों में शुरू की। Haryana में जहां बाल लिंगानुपात CSR (सीएसआर) बेहद कम है, 12 जिले चुने गए है : रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, भिवानी, झज्जर, Ambala, कुरुक्षेत्र, सोनीपत, रोहतक, Karnaal, कैथल, पानीपत और Yammna Nagar.

क्या है बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ Yojana  का Main उद्देश्य – 

  • कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए
  • लड़कियों को पढ़ाई के जरिए सामाजिक और वित्तीय तौर पर आत्मनिर्भर बनाना
  • बेटियों की सिक्योरिटी
  • महिला सशक्तिकरण

जन्म हो जाने के बाद भी लड़कियों के साथ भेदभाव नहीं थमता। स्वास्थ्य, पोषण और शिक्षा की जरूरतों को लेकर उनके साथ कई तरह से पक्षपात होता है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना पूरे समाज के लिए एक वरदान है।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अन्तर्गत दी जाने वाली सुविधाएँ – Important Features of Beti Bachao Beti Padhao Yojana in Hindi

बेटियों की सिक्योरिटी –

आज देश में लड़कियाँ कहीं भी सेफ नहीं है इसलिए उनकी Security के लिए सरकार ने विशेष कदम उठाये है जिसके लिए सरकार 50 करोड़ का फण्ड (Fund) निर्धारित किया है जिसमे महिलायों के लिए बहुत सारा सुविधा जनक काम होगा ।

अलर्ट बटन (Alert Button) –

अलर्ट बटन एक प्रकार की सुविधा है जिसके जरिये सन्देश/Massege, आवाज सन्देश/Voice Massege साथ ही Images के जरिये Secrurity हेतु हेल्प मागने की सुविधा है ।

संकट प्रबंधन सुविधा केंद्र – 

अगर कोई घटना हो जाती है तो इस इस्थिति में तुरंत कार्यवाही की जा सके ।

जनता में जागरूपता हेतु प्रयास

सरकार द्वारा योजनाएं तो बहुत बनायीं और लागू  की जाती है, पर आम जनता उस पर कितना ध्यान देती है इसके लिए जनता में जाकरूकता बनाने के लिए काम किया जाना चाहिए ताकि जनता को यह पता चले की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ Yojana क्या है । विज्ञापन, स्लोगन और पोस्टर के जरिये लोगों में जागरूपता एक अच्छा माध्यम है ।

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) – प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश की कन्याओं के लिए बहुत ही अच्छी योजना

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) – प्रधान मंत्री Narendra Modi द्वारा देश की कन्याओं (Girls) के लिए बहुत ही अच्छी योजना – अब किसी भी कन्या को निराश होकर अपनी पढाई नहीं छोडनी पड़ेगी मात्रा एक हजार महीने की बचत से बेटी की पढाई और शादी की समस्या का निवारण,बहुत आसानी से हो जायेगा गरीब से गरीब ब्यक्ति भी इस योजना का लाभ ले सकता है ।

बेटी के माँ बाप बेटी के नाम से खाता खुलवा सकतें है, एक बेटी का एक ही खाता खुलेगा , अगर किसी के पास दो बेटी है तो उसको दोनों बेटियों के लिए अलग अलग खाते खुलवाने होगें । अगर किसी के पास दो बेटी से ज्यादा है तो वो केवल दो बेटियों के लिए ही सुकन्या समृद्धि का खाता चला सकता है । एक सूरत में तीन अकाउंट खोला जा सकता है अगर जुड़वां बेटी हो तो साथ में प्रमाण पत्र देना होगा, दस साल की बेटियों के लिए ये योजना है (The age of Ten Years)। Example के लिए – जिस बेटी का जन्म 2 DEc 2003 से 01 Dec 2015 के बीच हुआ हो उसी बच्ची को इसका लाभ मिल सकता है । यानि 10 साल के अंदर की उम्र के बेटी हो

Rules of Sukanya Samriddhi Account in Hindi – सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट योजना एवं नियम

सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाने के लिए कौन कौन से जरुरी कागज लगता है । Sukanya Samriddhi Yojana Documents

योग्यता (Eligibility Criteria):

सुकन्या समृद्धि खाता 10 वर्ष या उससे कम आयु की बच्ची के लिए है, बेटी की उम्र कम होने के कारण इस अकाउंट की देख रेख उसके माता पिता द्वारा की जाएगी ऐसी सुविधा है ।

जरुरी कागजात Document

Birth Certificate of Girl Child
Address Proof
Identity Proof

सुकन्या समृद्धि खाते की वयस्कता/Maturity

सुकन्या समृद्धि खाते की उम्र 21 वर्ष तय की गयी है , जिसमे 14 वर्ष तक खाते में रूपये जमा करने की सुविधा दी गयी है । 21 वर्ष की अवधि के बाद ही इस खाते से रूपये प्राप्त होगें । अगर इस खाते में सालाना 12,000 रूपये जमा किये जातें है तब यह 6,07120 होगें और अगर 1,50,000 रूपये जमा किये जातें है तब वे 76 लाख रूपये होगें । यानि कहने का मतलब है की अगर कोई सालाना बारह हजार जमा करवाता है तो उसे Rs. 6,07120 मिलेगा और अगर सालाना1,50,000 रूपये जमा करवाता है तो उसे 76 लाख रूपये 21 वर्ष पूरे होने पर प्राप्त होगें ।

सुकन्या समृद्धि खाते पर विशेष सुविधा यह है की इस खाते पर 9.1% वार्षिक चक्रबृद्धि ब्याज दिया जाता है यह दर समय -समय पर बढ़ भी सकती है । Latest Interest Rate (FY: 2016-17) – 8.60% p.a.

Important Points

  • Sukanya Samriddhi Account किसी भी नजदीकी पोस्ट ऑफिस Post Office या फिर बैंक Bank में खाता खोला जा सकता है ।
  • सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए इसमे न्यूनतम 1000 राशि है
  • प्रति वर्ष इसमे 100 रूपए जमा करना अनिवार्य है अन्यथा इसे बंद कर दिया जाता है । साथ ही अधिकतम 1,50,000 राशि तक की सीमा निर्थारित की गयी है ।
  • इस खाते के शुरू होने की तारीख से 14 वर्ष तक इसमे राशि जमा की जाती है अत 15 से 21 वर्ष तक इस खाते में अन्य राशि जमा नहीं की जा सकती ।
  • लड़की की आयु 18 वर्ष हो जाने पर इस खाते से 50% राशि उसकी पढ़ाई एवं Marriage के लिए निकली जा सकती है ।

Premature Closure of Sukanya Samriddhi Account – अगर खाता धारक की असमय हो जाती है तो देकर खाते को तुरंत बंद करवाया जा सकता है । तो खाता धारक को जितने पैसे जमा हुए होगें और साथ में ब्याज सहित रकम उसको मिल जाएगी ।

beti bachao beti padhao yojana in hindi से जुडी जानकारी आप को कैसी लगी ?

sbi sukanya samriddhi yojana, sukanya samriddhi scheme details, sukanya yojana post office, sukanya samriddhi yojana chart, sukanya samriddhi yojana calculator,sukanya samriddhi yojana sbi in hindi, sukanya samriddhi yojana calculator, sukanya samriddhi yojana in hindi, sukanya samriddhi yojana sbi,sukanya samriddhi yojana interest rate,sukanya samriddhi yojana post office,sukanya samriddhi yojana in hindi, sukanya samriddhi account in hindi, sukanya samriddhi yojana details in hindi…

Other posts you might be interested in:

LIC of Inda – LIC Policy Plan List in Hindi
PPF Public Provident Fund Details in Hindi – लाजबाब बचत योजना
All India One Helpline Number List in Hindi

By VpHindiBlogger

Hi friends, My name is VP Yadav from UP. I am the Operational Head and Managing Director of https://nationalinsuranceblog.com My Specialization (10 Years Exp) SEO Analyst Blogging (Hindi Blogger) Affiliate Marketer Wordpress CMS Pinterest Marketing Expert

Leave a Reply

Your email address will not be published.