WTO in Hindi – विश्व ब्यापार संगठन के बारे में जानकारी World Trade Organization

WTO के बारे में जानकारी एक नजर In Hindi

विश्व ब्यापार संगठन (WTO) कोई देशों के बीच ब्यापार के नियमों के सन्दर्भ में एक प्रकार का एक संगठन है जिसकी स्थापना 1 जनवरी 1995 को जिनेवा स्विट्ज़रलैंड में की गयी थी। World Trade Organization (WTO) के नाम से भी जाना जाता है। इसको कई देशों के मध्य अनेक ब्यापारिक गतिबिधियों को अंजाम देने वाला संगठन भी कहा जाता है। जो देश इस संगठन के सदस्य होते है उनके ब्यापारिक गतिबिधियों पर यह संगठन अपना काम करता है यह बताता है की किस देश में कितना ब्यापारिक कारोबार हो रहा है कौन देश ब्यापारिक सेक्टर में आगे जा रहा है और कौन देश का ब्यापार ठीक से नहीं चल रहा है। WTO in Hindi

विश्व व्यापार संगठन का लक्ष्य यह हैं कि वह उत्पादकों के वस्तुओं और सेवाओं, निर्यातकों और आयातकों के व्यापारों की संचालन करने में Help करे। यह सभी देशों की कंपनियों और सरकारों को यह विश्वास दिलाता हैं कि नितियों का कोई अचानक बदलाव नहीं होगा, दूसरे शब्दों में कहें तो ब्यापार की नीतियों में पूरी पारदर्शिता होगी। 1994 में मोरको के मराकश शहर में डंकल प्रस्ताव पर 123 देशों के मध्य सहमति बन गई, वटो इसी सहमति का रिजल्ट है।

World Trade Organization WTO – यह संगठन Trade and Commerce से जुडी समस्त गतिविधियों को नियंत्रित करता है, संगठन का उदेश्यों में पर्यावरण सुरक्षा और सतत विकास को प्रोत्साहन देना भी शामिल है। संगठन सभी देशों को एक जैसी आर्थिक नीतियों अपनाने के लिए प्रोत्साहित करता है।

WTO Latest News In Hindi – 21 July 2016 तक WTO की सदस्य संख्या 164 थी। अब तक कुल 9 बार शिखर सम्मेलन आयोजित किये जा चुके है। WTO का मुख्यालय Centre William Rappard जिनेवा स्विट्ज़रलैंड में है।

विश्व ब्यापार संगठन आज पूरे विश्व सभी देश जो उसके सदस्य है ,के ब्यापारिक गतिबिधयों को देख रहा है और उन सभी को टाइम पर कुछ न कुछ सलाह भी देता है। WTO में चीन 2001 में शामिल हुआ था , इसकी आधिकारिक भाषा – English, French & Spanish है, इस संगठन का बजट – 196 million Swiss francs in 2011, आधिकारिक वेबसाइट – wto.org है। इस संगठन में काम करने वालों की संख्या 640 है। यानि 640 लोग कर्मचारी है। आज इस संगठन को बने हुए लगभग 22 साल का समय बीत चूका है। WTO in Hindi

WTO उम्मीद के मुताबिक और पारदर्शी

विदेशी Companies,Investors और Govt को विश्वास होना चाहिए कि व्यापार बाधाए मनमनाने ढंग से बढ़या नही जाना चाहिए। स्थिरता और भविष्‍य वचनीयता के साथ Investment को प्रोत्साहित करता हैं, रोज़गार का सृजन होता हैं और उपभोक्ताओं पूरी तरह प्रतियोगिता का लाभ उठाता हैं। WTO in Hindi

WTO की सबसे बड़ी संस्था मंत्री स्तरीय सम्मेलन Ministerial Conference  होती है, यह प्रत्येक 2 साल के बाद होती है। साथ में यह जनरल कॉउन्सिलिंग का भी काम देखती है। इसके वर्तमान महानिर्देशक Roberto Azevedo है। जब की विश्व बैंक समूह के चीफ Kristalina Georgieva है जिन्होने को अपना पद 02 Jan 2017 से अभी तक …

wto in hindi, wto kya hai, wto details in hindi, wto headquarter, wto chief, wto CEO, world trade organization in hindi, world trade organization details in hindi, world trade organization HQ..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *