ULIP क्या है? इसका इस्तेमाल ? – शेयर बाजार – Unit Linked Insurance Plan Hindi

ULIP in Hindi – ULIP क्या है? इसका इस्तेमाल कहां किया जाता है ? – शेयर बाजार

ULIP क्या है? इसका इस्तेमाल कहां किया जाता है ? यह कब से शुरू हुआ ? इसके बारे में लोगों की क्या राय है ? ULIP का मतलब क्या होता है ?

ULIP का फुल फॉर्म होता है – Unit Linked Insurance Plan – यूलिप ULIP (unit linked insurance plan) Investment का एक लाजबाब जरिया है, यदि आप Long Term के लिये निवेशित रहना चाहते हैं, तो आप 10 से 20 वर्षों के लिये निवेश कर सकते है, बेहतर है कि आप किसी कंसल्टेंट की सहायता से म्यूच्यूअल फंड Mutual Fund  में निवेश करें।

Short History of ULIP in Hindi

यूलिप की शुरुआत सबसे पहले 2001 में की गयी थी । The first time ULIP was launched by Unit Trust of India (UTI), with the Government of India opening up the insurance sector to foreign investors in 2001

ULIP in Hindi यूलिप क्या है? आम बोलचाल की भाषा में ULIP का मतलब, लाइफ इंश्योरेंस (Life Insurance) और म्युचुअल फंड (mutual fund) में एक साथ पैसा निवेश करना। दरअसल, यूलिप unit linked insurance plan एक ऐसी बीमा योजना (Insurance Yojana) है जो Plan शेयर मार्केट से जुड़ी है। इसमें Insurance के अलावा शेयर मार्केट (share market) पर आधारित रिटर्न भी मिलता है। पर, इसमें Money One Year के लिए लगायी जाती है, एक तरह से कहें तो पैसा एक साल के लिए फॅस जाता है ।

ULIP (unit linked insurance plan) के प्रीमियम (Premium) के तौर पर जमा की गई रकम को बीमा कंपनी (Insurance Company) दो हिस्सों (Two Type) में बांट लेती है। छोटे और पहले हिस्से की रकम को अलग रख दिया जाता है। ULIP (unit linked insurance plan) आज के समय में लोगों का एक पसंदीदा शब्द बना है ।

यह Insurance Cover और दलाल के कमिशन आदि के खर्चों के लिए होती है। दूसरे और बड़े हिस्से की रकम को Share Market में लगा दिया जाता है। शेयर मार्केट (Share Market) में जो पैसा लगाया जाता है, उसका तरीका म्यूचुअल फंडों (mutual fund) की तरह ही होता है। पैसा शेयर मार्केट में लगा होने की वजह से इसमें Market उठने पर ज्यादा प्रॉफिट (Profit) और Down पर लॉस (Loss) होने की संभावना बनी रहती है।

ULIP Eligibility in Hindi

इसमें Minimum बीमा वार्षिक प्रीमियम का 45 वर्ष से कम आयु के लिए 10 गुना एवं 45 वर्ष से अधिक आयु के लिए कम से कम 7 गुना कर दिया गया है।

सरेंडर चार्जेस (ULIP Surrender charges in Hindi) –

Every Year सरेंडर चार्ज कम होता जाएगा एवं 5 वर्ष के बाद कोई सरेंडर चार्ज नहीं लिया जायेगा ।

ग्रॉस एवं नेट यिल्ड में क्या अंतर होता है जाने हिंदी में –

10 Year से कम वाली पॉलिसी (Policy) पर 3% और 10 वर्ष से अधिक की पॉलिसी पर .5% का कैप (लीमिट) यथावत होता है। हालाँकि मैच्योरिटी (maturity) पूर्व निकासी की स्थिति में ग्रॉस (Gross) एवं यिल्ड पर 5 वर्षों में 4% से लेकर 15 वर्ष में .5% का कैप लगा दिया गया है। इससे मैच्योरिटी के पूर्व निकासी की स्थिति में पहले से अधिक रकम मिल सकेगी।

ELSS म्युचुअल फंड (mutual fund) का एक विशेष वर्ग या प्रकार है, जो मुख्य रूप से Shares में Invest करता है। यह काफी तरह से विविध इक्विटी फंड (diversified Equity Fund) जैसे हैं। विविध इक्विटी फंड (Mis Equity Fund) और ईएलएसएस म्युचुअल फंड के बीच फर्क सिर्फ इतना है, कि ईएलएसएस (ELSS) में 3 वर्ष की लॉक-इन (Lock In) अवधि होती हैं।

इसका मतलब है कि एक बार आप ELSS (इक्विटी लिंक्ड बचत योजना) MF में Invest करते हैं तो, आप 3 साल की अवधि के लिए अपने निवेश को वापस नहीं ले सकते।

इक्विटी लिंक्ड बचत योजना में किया गया निवेश (Invest) ) आयकर अधिनियम (IT) की धारा 80C (Section 80C of the Income Tax – IT – Act) के अंतर्गत लाभ के लिए पात्र है। छूट की Maximum सीमा धारा 80 C के तहत 1 लाख रुपये प्रति वर्ष है।

विविध इक्विटी म्युचुअल फंड (Diversified Equity Mutual Fund) पर रिटर्न 5 वर्ष की अवधि में 53.02% रहा है मतलब किसी ने 100 रुपया लगाया तो उसे 153 रुपये वापस मिलेगें।

यह लॉक-इन आपकी मदद ही करता है। आमतौर पर Fund प्रबंधकों (fund managers) को म्युचुअल फंड के कोष का एक हिस्सा (लगभग 7-10% के आसपास) Cash के रूप में रखना पड़ता है, ताकि वे redemption की मांग को पूरा कर सकें।

यह Cash बहुत ही कम अवधि के निवेश में निवेशित होती है, और बहुत ही Short Income पैदा करती है। यह म्युचुअल फंड के total return पर प्रभाव डालती है।

ईएलएसएस का कोष प्रबंधक (fund managers) जानता है कि आपको अपने पैसे 3 साल के लिए वापस नहीं लेने हैं। इस वजह से वह आपके पूरे पैसों का निवेश कर सकता है, और इस प्रकार, आपके द्वारा किये निवेश का कोई हिस्सा Cash के रूप में निष्क्रिय नहीं होता।

इस वजह से आपको ईएलएसएस (इक्विटी लिंक्ड बचत योजना) में अन्य म्यूचुअल फंड्स (mutual funds) के मुकाबले बेहतर लाभ मिल सकता है।

what is ulip plan, sbi ulip plan, lic ulip plan, best ulip plan in hindi, ulip plan in hindi, best ulip plan 2017,unit linked insurance plan example, hdfc ulip plan,ulip, ulip plan, ulip information in hindi, ulip hindi, ulip everthing in hindi, benefits of ulip in hindi, what is ulip in hindi, unit linked insurance plan in hindi, ulip insurance india in hindi, best ulip insurance plan in india, ulip plan, यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान , ULIP Insurance Plan in Hindi, Best ULIP Plan in Hindi, Top ULIP Plan Companies..

Top ULIP Plans List – टॉप यूलिप (यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान) प्लान्स इन हिंदी

State Bank of India – Life wealth Assure
Max Life Fast Track Growth Fund
Tata AIG Life Invest Assure II Balanced Fund
PNB Metlife Smart Platinum
Bajaj Allianz Future Gain Plan
Aegon Life iMaximise Secure Plans
SUD Life Dhan Suraksha Plus
HDFC Life Pro Growth Plus
ICICI Bank Pru Wealth Builder II
LIC Market Plus – I Growth Fund

Other Posts You might be Interested in:

प्रधान मंत्री योजना सूची हिंदी में – PM Yojana List in Hindi
All Indian Bank Toll Free Number & Customer Care Details in Hindi
All India One Helpline Numbers Lists
PPF Public Provident Fund Details in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *