Social Welfare – सोशल वेलफेयर क्या है ?

Social Welfare – सोशल वेलफेयर क्या है ?

Social Welfare शब्द से कौन नहीं वाकिब है सभी जानते है की सोशल वेलफेयर (social welfare) का मतलब ही होता है समाज का कल्याण करना भी आज इसके बारे में बिस्तार से जानना जरुरी हो जाता है हमको सोशल वेलफेयर में बारे में पूरी जानकारी हाशिल होनी चाहिए , इस पोस्ट के माध्यम से आप सभी को समाज सेवा के बारे में जानकारी हाशिल होगी, ताकि आप जान सके की समाज की सेवा कैसे की जाती है और लोग social welfare जैसे कार्यों में अपनी संस्था बनकर लोगों की सेवा कैसे कर रहे है।

सोशल वेलफेयर क्या है ? What is social welfare?

समाज कल्याण के लिए कुछ करने की कल्याणकारी सोच और समाज ही समाज सेवा होती है अगर आप में समाज के प्रति सेवा की भावना है तो आप समाज के लिए बहुत सारे कल्याणकारी काम कर सकते है समाज कल्याण एक प्रकार की मानवता की सेवा है जो बहुत सरे लोगों ने देश में किया है और कर रहे है आगे भी लोग करते रहेगें आज भारत जैसे देश में समाज सेवा का कार्य सबसे ज्यादा होता है भारत ही एक ऐसा देश है जहाँ बहुत सारी संस्थाएं समाज की सेवा में लगी है जो समाज के दबे कुचले गरीब और असहाय लोगों की सेवा करती है हम कह सकते है की लोगों के कल्याण के लिए किये गए कार्य ही social welfare कहलाता है।

भारत में सभी राज्यों में अपना एक समाज कल्याण बिभाग भी है जो अपने प्रदेश की जनता के लिए काम करता है यह विभाग अलग अलग तरह से लोगों को मदत करता है कुछ राज्यों में तो तरह तरह के स्कीम्स बनाकर लोगों को सुबिधा दी जा रही है। जिससे समाज का कल्याण होता है समाज में फैली बहुत तरह की समस्यों का समाधान होता है , इन विभागों को केंद्र सरकार से भी कुछ पैसे मिलते है जो समाज की सेवा के लिए होते है राज्य सरकारें इन पैसों से समाज की सेवा करती है यही होता है समाज कल्याण का कार्य।

MSME full form – Micro, Small and Medium Enterprises

आज भारत में लाखों निजी समाज कल्याण की संस्थाएं है जो समाज की सेवा में रात दिन लगी हुई है कोई समाज की सेवा लोगों को खाना खिलाकर कर रहा है तो कोई समाज के लिए गायों का गौशाला बनाकर समाज और अपने देश में कुछ न कुछ योग्यदान दे रहा है सभी संस्था कुछ न कुछ काम कर ही रही है संस्था बनायीं जाती है कोई न कोई सामाजिक कार्य करने के लिए जिससे समाज और राष्ट्र का विकाश हो सके।

राज्य इस तरह की योजनाएं चलाकर अपने प्रदेश और देश की समाज सेवा करते है कुछ योजनाओं की झलक इस प्रकार है जो Social welfare जैसे काम होते है जिसे सरकार और निजी सेक्टर की NGO भी करती है यही समाज कल्याण कर कार्य होता है।

अनुसूचित जाति एवं सामान्य गरीब परिवारों के व्यक्तियों की पुत्रियों की शादी एवं उनके परिजनों के इलाज हेतु अनुदान योजना
राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय
अनुसूचित जाति छात्रावास निर्माण योजना
राज्य उच्च स्तरीय सेवाओं हेतु परीक्षा पूर्व कोचिंग केन्द्र योजना
वृद्ध एवं अशक्त गृहों का संचालन
रानी लक्ष्मी बाई पेंशन योजना
छात्रवृत्ति योजना
वृद्धावस्था/किसान पेंशन योजना
रा्षट्रीय पारिवारिक लाभ योजना
अत्याचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत आर्थिक सहायता
राजकीय भिक्षुक गृहों का संचालन
मेरिट उच्चीकृत योजना
स्वैच्छिक संगठनों द्वारा शिक्षा सम्बन्धी कार्य तथा उन्हें दी जाने वाली आर्थिक सुविधायें
प्रदेश के अनुसूचित जातियों के कल्याण हेतु विभाग द्वारा राजकीय औद्योगिक आस्थानों का संचालन
राजकीय उन्नयन बस्तियों का रख-रखाव

Largest Economies in the World 2050 – These Will Be The Top 10 Richest Countries In 2050

ऐसे ही योजना के साथ Social Welfare का काम किया जाता है। से समाज में बहुत सारे लोगों को Rojgar के अवसर भी मिलते है आज भारत में करोड़ों लोग सामाजिक सेवा के कार्यों में लगे है जिससे उनको समाज सेवा के साथ साथ रोजगार भी मिला हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *