Make in India in Hindi – मेक इन इंडिया क्या है ? इसकी शुरुआत कब और किसने की ? योजना का लक्ष्य

मेक इन इंडिया क्या है ? इसकी शुरुआत कब और किसने की ? इस योजना का उद्देश्य क्या है ? इससे भारत को क्या मिलेगा?

मेक इन इंडिया (Make in India) एक ऐसा अभियान है जो भारत में व्यापार की इच्छा रखने वाले पूरे विश्व भर के बड़े व्यापारिक निवेशकों को सहज बनाता है। Make in India की शुरुआत नयी दिल्ली (New Delhi) के विज्ञान भवन में पीएम Narendra Modi के द्वारा 25 सितंबर 2014 को हुई । मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत देश – विदेश के मुख्य व्यापारिक निवेशकों को बुलाने के लिये ये एक पहल है । इसके तहत किसी भी क्षेत्र (Area) में (उत्पादन, टेक्सटाईल्स, ऑटोमोबाईल्स, निर्माण, खुदरा (Retail Sector), रसायन, आईटी (IT), बंदरगाह, दवा के क्षेत्र में, पर्यटन, स्वास्थ्य (health), रेलवे (railway) आदि) अपने व्यापार को स्थापित करने के लिये सभी निवेशकों (Investors) के लिये ये एक बड़ा अवसर है । Make in India के तहत Foreign Invest आकर्षित करने के लिये रक्षा उत्पादन और बीमा क्षेत्रों में बहुत बड़ा बदलाव किया गया है, इस योजना का लक्ष्य भारतीय अर्थव्यवस्था को नया रुप देना है, ताकि भारत मैनुफैक्चरिंग के मामले में विश्व के बड़े देशों के साथ खड़ा हो सके । Make in India in Hindi

मेक इन इंडिया (Make in India) के तहत बड़ी बड़ी कंपनियों को भारत में इन्वेस्ट करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है, ताकि वो भारत में ज्यादा  से ज्यादा  इन्वेस्टमेंट करके भारत को मैन्युफैक्चरिंग में आगे ले जा सके , इस योजना की शुरूआत में ही अमेरिका और चीन से बहुत ही अच्छे रेस्पॉन्स मिले, भारतीय बिदेशी निवेश को FDI (Foreign Direct Investment) द्वारा 2015 में बिलियन डॉलर मिले थे । अभी भी कई देशों से इन्वेस्टमेंट मिल रहें है । आने वाले दिनों में इस योजना से भारत को काफी फायदा होने वाला है , बहुत सारे  इन्वेस्टर भारत में मोबाइल और आईटी के सेक्टर में पैसे इन्वेस्ट करने वाले है । जिससे भारत उत्पादन और रोजगार में काफी बृद्धि होगी ।  मेक इन इंडिया की शुरुआत (Make in India Initiative) – 25 सितंबर 2014 Make in India in Hindi

मेक इन इंडिया योजना के उद्देश्य (Make in India Campaign Aim in Hindi)

अधिक से अधिक मैन्युफैक्चरिंग (manufacturing)  भारत में ही हो, जिससे सामान की कीमत कम होगी और बाहर निर्यात होने से देश की अर्थवयवस्था को फायदा होगा ।
देश में रोजगार की मात्रा बढ़ेगी और बेरोजगारी कम होगी ।
अच्छी गुडवत्ता वाली सामान कम दाम पर मिल सके ।
दूसरे देशों के निवेशक अपने देश में आकर पैसा लगाएं जिससे देश में बाहर से पैसा आएगा साथ ही साथ अपने देश का नाम दुनिया में ऊँचा होगा ।
देश के नवजवानों को अपनी सोच से कुछ बनाने का मौका मिलेगा ।
देश के युवा बाहरी देशों में नौकरी करने की बजह अपने ही देश में नौकरी करना पसंद करें ।

मेक इन इंडिया को मिलने वाले रिस्पांस Make in India Response

जब से ये योजना की शुरू की गयी तब से अभी तक ज्यादातर इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनियों ने प्रपोसल भेजे है । जो भारत में काम करना चाहती है, एक अनुमान के अनुसार भारत सरकार को 1.20 लाख करोड़ रूपये बाहरी कंपनियों से मिले है ।

इसके साथ बहुत सारी कंपनियों ने भारत सरकार को अपने प्लान्स भेजे है जिनपर सरकार बिचार कर रही है इस योजना में जापान की तरफ से 12 लाख करोड़ का फण्ड मिला ।

मेक इन इंडिया से जुडी और कुछ बातें हिंदी में

सरकार ने इस योजना के लिए 25 सेक्टर का चुनाव किया है, जिस सेक्टर में इन्वेस्ट किया जा सकता है – ऑटोमोबाइल, बायोटेक्नोलॉजी, कैमिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स, फ़ूड प्रोसेसिंग (Food Processing), इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, लेदर, माइनिंग, मीडिया (Media), आयल व गैस, रेलवे,पोर्ट्स एंड शिपिंग टेक्सटाइल एवं गारमेंट, थर्मल पावर, टूरिजम, इलेक्ट्रिकल मशीन, रोड और हाईवे(Road and Highways), बिमान उदयोग एवं डिफेन्स के सेक्टर में इन्वेस्टमेंट (Investment) करने वालों को बहुत सी छूट दी गयी है ।

मेक इन इंडिया स्लोगन (Make in India Slogan)

The Slogan coined by the Prime Minister Narendra Modi, was “ZERO DEFECT ZERO EFFECT”.

This Slogan means, product which is created by manufacturing companies no or zero defect and the process which is used for production of product is zero adverse effect on the environment and ecological effect.

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (भारत सरकार) की यह योजना काफी अच्छी  योजना है, विदेशों में भी इसके काफी चर्चे चल रहें है । आने वाले दिनों में देश और इन्वेस्टमेंट आने की सम्भावना है ।

Make in India Website – makeinindia.com/home

Make in India in hindi Wikipedia – Click Here

make in india in hindi, make in india hindi, make in india website, make in india policy, make in india policy in hindi, make in india information, make in india information in hindi, make in india details in hindi, make in india benefits, make in india project, make in india project in hindi, make in india in hindi wikipedia, make in india hindi,make in india campaign in hindi,make in india and made in india in hindi,make in india hindi slogans, how to invest in make in india, make in india yojana in hindi, pm make in india hindi

Other posts you might be interested in:

PPF Public Provident Fund Details in Hindi
ULIP क्या है ?
Credit Card – How to Apply Online in Hindi
Atal Pension Yojana in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *