GST Returns Filing Hindi – जीएसटी Filing Online कैसे ?

GST Return Filling Process In Hindi – GST Return कैसे भरा जाता है ऑनलाइन ?

GST को लेकर अटकलों का बाजार अब धीरे -धीरे शांत हो चुका है, जैसा की हम सभी जानते है की 01 जुलाई 2017 से यह पुरे देश में लागू हो चूका है। GST, इस कर सुधार ने भारत में नई क्रांति को जन्म दिया है। जीएसटी भारत में अभी तक का सबसे बड़ा कर सुधार है। जीएसटी को लेकर सभी चर्चा और विबादों पर अब विराम लग चूका है। लेकिन इस टैक्स ने एक नवीन प्रश्न को जन्म दिया है। की जीएसटी लगने के बाद Indian Economy क्या परिवर्तन आएगा? GST से करदाताओं, कारोबारियों और उपभोगताओं को क्या लाभ और राहत मिलेगी ? इसमें सबसे महत्वपूर्ण बात, जो Businessman को परेशान कर रही है? वो है की जीएसटी में रजिस्ट्रेशन कैसे करें ? GST फाइलिंग कैसे करें ?

GST Returns Filing

GST में रजिस्ट्रेशन कैसे करें ? GST फाइलिंग कैसे करें ?

अब हर ब्यापारी को जो GST के अंतर्गत आता है, हर महीने की 10 तारीख को पिछले माह के अपने कारोबार की जानकारी GST Portal पर देनी होगी इसके लिए आप को अपने कारोबार की जानकारी GSTR -1 फॉर्म में देनी होगी, इसको Return फॉर्म भी कहते है। GST Returns Filing

GSTR -1 इसको Return फॉर्म भी कहते है। इसी Form में आप को अपनी बस्तु एवं सेवा की जानकारी देनी होती है। आप ने पिछले महीने में 2.5 लाख का या इससे अधिक का कारोबार किया और बस्तु एवं सेवा का आदान – प्रदान दूसरे राज्यों में किया है, तो आप को प्रत्येक माल की पक्की रसीद का विवरण देना होगा। GST Returns Filing

इसी तरह से और भी बहुत सारे GSTR के फॉर्म होते है जिनको भरना पड़ता है।

Form GSTR – 6 Every Months 13th तारीख को

Form GSTR – 2 हर महीने 15 तारीख को

Form GSTR – 4 वह कारोबारी जो महीने में 20 लाख से ज्यादा का कारोबार करता है, प्रत्येक तिमाही के 18 तारीख को Form GSTR 4 के माध्यम से Return भरेगा।

Form GSTR MIS – 1 यदि कोई बिजनेसमैन इनपुट टैक्स क्रेडिट का दावा करना चाहता है तो वह Form GSTR MIS – 1 के माध्यम से कर दे सकता है।

Form GSTR 3 A – समय से GST न भरने वाले कारोबारी के लिए है , उनको धारा 27 और 31 के तहत नोटिस भेजा जायेगा।

GSTR 5 – जो Businessman भारत में नहीं रहते है अर्थात उनके लिए है विदेश से आने वाले ब्यापारियों को Form GSTR 5 के माध्यम से रिटर्न हर महीने की 20 तारीख को भरना अनिवार्य होगा।

Form GSTR – 7 जो Businessman अपने कारोबार के टैक्स रिटर्न को में फाइल करना चाहते है वो हर महीने की 10 तारीख को कर सकते है।

Form GSTR – 8 E-Commerce Websites के कारोबारियों के लिए

Form GSTR 9 – जो Businessman कराधीन के अंतर्गत आता है उसे Form GSTR 9 भरना होगा

Form GSTR 9 C – जिस भी Businessman का टर्नओवर 2 करोड़ से ज्यादा का है

Form GSTR – 10 ऐसे करदाता जिनका पंजीकरण किसी कारण वश रद्द कर दिया गया है उन्हें पंजीकरण रद्द होने के तीन महीने के अंदर अपने भुगतान किये गए कर और भुगतान योग्य कर का पूरा विवरण देना होगा। GST Returns Filing

GST से सम्बंधित खाते और रिकार्ड्स ?

Daily Stock Account
रसीद
कच्चा माल जारी होने की बही
बीजक बही और नियत कार्य की बही
सेवाकर के अंतर्गत बीजक बही
नाम चिठ्ठी और जमा चिट्टी
सैनवत बही
माल की खरीदी और बिक्री की बही

How to File GST Online

GST Practitioner (GST PCT) In Hindi

जीएसटी से सम्बन्धी सारे काम GST Practitioner (GST PCT) करते है, वो आप को GST Portal पर मिल जाते है, आप जिस एरिया या लोकेशन में बिज़नेस करते है वहां नियर में कौन GST PCT है आप को GST Website पर सर्च करके पता चल जाता है वो कुछ चार्ज पर आप का पूरा काम करेगें। GST Returns Filing

GST Returns Filing Hindi, GST Returns Filing,  GST Filling..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *