Bank in India – List of Banks In India भारत में बैंकिंग Public and Private Bank

Bank In India – List of Banks In India भारत में बैंकिंग Public & Private Banking In India

About Banking System In India Hindi

भारत में बैंकिंग की शुरुआत लगभग 18वी शताब्दी के आधे समय के बाद से शुरू हुई थी, जब जनरल बैंक ऑफ़ इंडिया की स्थपना 1786 में हुई थी तभी से बैंकिंग का इतिहास है। उसके बाद 1806 में द बैंक ऑफ़ बंगाल की स्थपना की गयी थी। हमारे देश के सभी बैंकों को का नियंत्रण रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा किया जाता है। सभी बैंक RBI के नियम एवं कानून को मानते है, जिसकी स्थपना 1935 में की गयी थी। इसे भारत का सेंट्रल बैंक भी कहा जाता है यही सभी बैंकों को निर्देश भी देता है। भारतीय बैंक देश और विदेशों में भी अपना काम करते है आज कई भारतीय बैंकों की शाखाएं विदेशों में खुली हुई है। Bank In India

बैंक ऑफ़ इंडिया के बारे में जानने के लिए आप सभी को यह जानना जरुरी है की भारत में कितने बैंक है कौन बैंक पब्लिक सेक्टर के बैंक में आता है और कौन सा बैंक प्राइवेट सेक्टर के बैंकों में आते है। आइए जानते है भारत में कितने बैंक है।

Public Sector Bank In India – लिस्ट ऑफ़ पब्लिक सेक्टर बैंक इन इंडिया

public sector bank

Private Sector Bank In India – Private सेक्टर बैंक इन इंडिया

private sector bank

पब्लिक सेक्टर के बैंकों का controlled and managed गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया के द्वारा किया जाता है State Bank of India, Bank of Baroda, Syndicate Bank and Canara Bank are known as Public sector banks. भारत में पब्लिक सेक्टर के बैंकों की भूमिका सबसे अधिक है ज्यादातर लोग पब्लिक बैंक से ही जुड़े होते है , यह बैंक हर जगह बहुत ही आसानी से मिल जाते है प्राइवेट बैंक हर जगह आसानी से नहीं मिलते है वो ज्यादातार शहरी एरिया में होते है। India is mostly dominated by the Public sector banks. पब्लिक सेक्टर बैंक हमेशा ग्रोथ पर रहते है वो कभी दिवालिया नहीं होते है। इलाहाबाद Bank भारत का सबसे first fully owned Indian bank जिसकी स्थपना 1865 में में हुई थी। Bank In India

भारतीय बैंकों से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातें

1. भारत में बैंकिंग की शुरआत 18वी शताब्दी के मध्य से हुई ऐसा इतिहास बताता है।
2. बैंक ऑफ़ हिंदुस्तान 1770 में बना
3. बैंक ऑफ़ कलकत्ता 1806
4. बैंक ऑफ़ बम्बई 1840
5. India आधुनिक बैंकिंग की शुरुआत ब्रिटिश राज में हुई
6. Bharat Me बैंक का राष्ट्रीयकरण स्वतन्त्रता के उपरान्त सन् 1949 में किया गया
7. सन् 1955 ई. में इंम्पीरियल बैंक ऑफ इण्डिया का भी राष्ट्रीयकरण किया गया और उसका नाम बदल करके भारतीय स्टेट बैंक रखा गया
8. देश के प्रमुख 14 बैंकों का राष्ट्रीयकरण 19 जुलाई सन् 1969 ई. को किया गया
9. बाद में 15 अप्रैल सन 1980 को निजी क्षेत्र के छ: और बैंकों को राष्ट्रीयकृत किया गया
10. RBI ने जनवरी, सन् 1993 ई. में तेरह नये घरेलू बैंकों को बैंकिंग गतिविधियां शुरू करने की अनुमति दी
11. इनमें प्रमुख हैं UTI.,ICICI, Global Trust, HDFC & IDBI
12. India में बैंकिंग बहुत सुविधाजनक और परेशानी मुक्त है।

प्राइवेट बैंक टेक्नोलॉजी में बहुत एडवांस होते है वो बैंक ज्यादातर ऑनलाइन बैंकिंग पर ज्यादा जोर देते है। Bank In India

banking history in india, banking system in india, bank in india, top 10 government banks in india, private bank in india, public bank in india, banking in india, bank in india hindi..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *